aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai

Title- आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है –
Film/Movie-घर-(Ghar)
Music Director- राहुलदेव बर्मन-(r D Burman)
Lyrics/ Lyricist- गुलजार-(Gulzar)
Singer(s)- किशोर कुमार-(Kishore Kumar), लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)
राग / raag: Kedar

किशोर: आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है
आपसे भी खूबसूरत आपके अंदाज़ हैं
आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है

लब हिले तो मोगरे के फूल खिलते हैं कहीं – २
आप की आँखों में क्या साहिल भी मिलते हैं कहीं
आप की खामोशियाँ भी आप की आवाज़ हैं

लता: आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है
आप से भी खूबसूरत आपके अंदाज़ हैं
आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है

आप की बातों में फिर कोई शरारत तो नहीं – २
बेवजह तारिफ़ करना आप की आदत तो नहीं
आप की बदमाशियों के ये नये अंदाज़ हैं
किशोर: आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है
लता: आप से भी खूबसूरत आपके अंदाज़ हैं
आप की आँखों में कुछ महके हुए से राज़ है

Lyrics in English

kishor: aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai
aapase bhii khuubasuurat aapake andaaz hain
aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai

lab hile to mogare ke phuul khilate hain kahiin – 2
aap kii aankhon men kyaa saahil bhii milate hain kahiin
aap kii khaamoshiyaan bhii aap kii aavaaz hain

lataa: aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai
aap se bhii khuubasuurat aapake andaaz hain
aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai

aap kii baaton men phir koI sharaarat to nahiin – 2
bevajah taarif karanaa aap kii aadat to nahiin
aap kii badamaashiyon ke ye naye andaaz hain
kishor: aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai
lataa: aap se bhii khuubasuurat aapake andaaz hain
aap kii aankhon men kuchh mahake hue se raaz hai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *